पहले चरण में दांव पर 1065 उम्मीदवारों की किस्मत, सबसे अधिक 28 पालीगंज में और कटोरिया में सबसे कम 5 कैंडिडेट्स

पहले चरण में दांव पर 1065 उम्मीदवारों की किस्मत, सबसे अधिक 28 पालीगंज में और कटोरिया में सबसे कम 5 कैंडिडेट्स

बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में उम्मीदवारों की घोषणा हो गई है. बिहार निर्वाचन आयोग की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक पहले चरण के कुल 71 विधान सभा क्षेत्र में कुल 1354 अभ्यर्थियों ने नामांकन किया. जिसमें से 264 कैंडिडेट्स के नामांकन आयोग द्वारा रद्द कर दिए गए. नामांकन की पूरी प्रक्रिया समाप्त होने के बाद पहले चरण के कुल 71 विधान सभा सीटों पर कुल 1065 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं.

बिहार निर्वाचन आयोग ने बताया कि 264 कैंडिडेट्स के नामांकन आयोग द्वारा रद्द किये जाने के बाद 1090 आवेदन वैध माने गए. जिसमें से 25 उम्मीदवारों ने अपना नाम वापस ले लिया. स्क्रूटनी की पूरी प्रक्रिया के बाद अब बिहार में 16 जिलों के 71 विधान सभा क्षेत्र में कुल 1354 अभ्यर्थियों की किस्मत दांव पर है. मुख्य चुनाव अधिकारी संजय कुमार सिंह ने संवाददाताओं को बताया कि प्रथम चरण के चुनाव के लिये उम्मीदवारों के नामांकन जांचने की प्रक्रिया पूरी हो गयी है.

आयोग की ओर से जो जानकारी साझा की गई है, उसके मुताबिक पटना जिला के पालीगंज विधान सभा क्षेत्र से सबसे अधिक 28 अभ्यर्थी चुनावी मैदान में ताल ठोक रहे हैं जबकि बांका जिले के कटोरिया विधान सभा क्षेत्र से सबसे कम 5 अभ्यर्थी हैं.

इन सीटों पर मतदान 28 अक्टूबर को होगा. जबकि रिजल्ट 10 नवंबर को आएंगे.  बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के 94 विधानसभा क्षेत्रों में शुक्रवार से नामांकन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. दूसरे चरण के विधानसभा क्षेत्रों में 16 अक्तूबर तक नामांकन पत्र दाखिल किया जायेगा. नामांकन पत्रों की जांच 17 अक्तूबर को की जायेगी. इस चरण के लिए तीन नवंबर को मतदान कराया जायेगा





0 Response to "पहले चरण में दांव पर 1065 उम्मीदवारों की किस्मत, सबसे अधिक 28 पालीगंज में और कटोरिया में सबसे कम 5 कैंडिडेट्स"

Post a comment

Please don't add spam links and adult languages

Ads on article

Advertise in articles 1

advertising articles 2

Advertise under the article